आईपीएल 2018
IPL 2018, फाइनल, CSK vs SRH: जानिए चेन्नई सुपर किंग्स टीम की संभावित 11 खिलाड़ियों की लिस्ट
By Cricshots Team - May 27, 2018 6:45 am
Views 3
Share Post
Chennai Super Kings
Chennai Super Kings

आईपीएल इतिहास में दो बार की चैम्पियन रह चुकी चेन्नई सुपर किंग्स इस सीजन के फाइनल में शिरकत करके एक बार फिर से चैम्पियन बनने के ख्वाब देख रही है। चेन्नई तीसरे खिताब के लिए काल मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में उतरेगी तो वहीं सनराइजर्स दूसरी बार चैम्पियन बनने के सपने देख रही है। यह मैच बेहद रोमांचक होने वाला है क्योंकि दोनों ही टीमों ने अभी तक पूरे सीजन में शानदार खेल दिखाया है, जिस वजह से अंकातालिका पर पहले और दूसरे स्थान पर शुरुआत से ही इन दोनों टीमों का कब्जा था। चेन्नई का यह आईपीएल का 7वां खिताबी मुकाबला है। आईए जानते है चेन्नई फाइनल मुकाबले में किन संभावित 11 खिलाड़ियों को लेकर मैदान में उतर सकती है।

सलामी जोड़ी (शेन वॉटसन, फाफ डू प्लेसी)

शेन वॉटसन पहले क्वालीफायर मैच में पांच गेंदें खेलने के बाद जीरो पर आउट होकर चलते बने। वॉटसन को इस अहम मुकाबले में पॉवरप्ले में स्विंग होती गेंदों के खिलाफ खुद के शॉट खेलने के बारे सही तरह से सोचना होगा। चेन्नई के लिए इस सीजन में उन्होंने अभी तक टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हुए शानदार खेल दिखाया है। अभी तक इस सीजन में 14 मैच में 438 रन बनाया है जिसमें उनका स्ट्राइक रेट 145.03 रहा है लेकिन पिछले कुछ मैच से जुझते नजर आ रहे हैं। तो उम्मीद होगी की आज के बड़े मुकाबले में वो कुछ बड़ा कर के दिखाए।

फाफ डू प्लेसी एक चैम्पियन खिलाड़ी है। क्वालीफायर से पहले वो सिर्फ 4 मैच खेले में टीम का हिस्सा रहे थे। हालांकि जिस तरह से अकेले अपने दमपर उन्होंने पहले क्वालीफायर मैच में टीम को जीत दिलाई है उसके बाद उन्होंने टीम में अपनी उपयोगिता को पूरी तरह से साबित कर दिया है। रायडू की जगह पर ओपनिंग करते हुए उन्होंने हैदाराबद के खिलाफ 67 रनों की नाबाद पारी खेलकर टीम को फाइनल में अकेले दम पर पहुंचा दिया, फाइनल में उनसे यही उम्मीद होगी।

मध्यक्रम (सुरेश रैना, अम्बाती रायडू, महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान, विकेटकीपर) )

सुरेश रैना उस समय से चेन्नई का हिस्सा है जब से आईपीएल शुरू हुआ है और उन्होंने सभी फाइनल मैच में भी खेला है। इस बात में शक की कोई बात नहीं है कि वह बड़े मैच का दबाव सहने की क्षमता रखते है, लेकिन उन्हें अपने पूरे फॉर्म के साथ मैच में खेलना होगा क्योंकि अभी तक वह सीजन में उस तरह के टच में नहीं दिखे है। रैना को शोर्ट बॉल से खुद को निकालकर टीम के लिए मैच विनर खिलाड़ी की भूमिका निभानी होगी।

अम्बाती रायडू के लिए यह सीजन बेहद शानदार गया है और इस वजह से उन्हें भारतीय टीम में भी वापस जगह मिल गयी है। पिछले मैच में रायडू पहली ही गेंद पर बोल्ड हो गए थे लेकिन इससे उन्हें निकलकर नम्बर 4 पर बल्लेबाजी करते हुए टीम के लिए एक महत्वपूर्ण बल्लेबाज़ का रोल एकबार फिर से निभाना होगा।

महेंद्र सिंह धोनी ने फाइनल मैच में पहुँचने से पहले कुछ शानदार पारियां खेली है लेकिन उन्हें राशिद खान को किस तरह से खेलना है इसके लिए योजना बनानी होगी। पिछले मैच में उन्हें राशिद की गुगली बिल्कुल ही समझ नहीं आयीं थी लेकिन धोनी एक चैम्पियन खिलाड़ी है और उन्हें यह पता है कि फाइनल मैच के दबाव को कैसे हैंडल करना है।

ऑलराउंडर (ड्वेन ब्रावो, रविन्द्र जडेजा, दीपक चहर)

ड्वेन ब्रावो पहले क्वालीफायर मैच में काफी शानदार फॉर्म में दिखे उन्होंने महत्वपूर्ण मौकों पर युसूफ पठान और शाकिब अल हसन के विकेट निकालकर टीम की स्थिति मजबूत करने का काम किया था। अपने 4 ओवर में सिर्फ 25 रन देने के साथ ब्रावो ने खुद को साबित किया था कि वह एक बड़े मैच के खिलाड़ी है जो सही समय पर वापसी करते है।

जैसे जैसे सीजन आगे बढ़ा रविन्द्र जडेजा अपनी गेंदबाजी में सुधार करते हुए चले गए। पिछले कुछ मैच से वह एक ऐसे गेंदबाज बनकर उभरे जिन्हें पता है कि किस लाइन और लेंग्थ पर गेंद डालनी है। जडेजा हालंकि इस सीजन में वो खुद को बल्ले से साबित करने में नाकाम रहे है। 10 पारियों में जडेजा ने महज 89 रन ही बनाए है।

दीपक चहर चेन्नई टीम के लिए सबसे बड़ी खोज रहे है इस सीजन में धोनी उनसे शुरू में ही पूरे 4 ओवर करवाने में बिल्कुल भी संकोच नहीं करते है। सीजन के बीच में दीपक चोटिल हो गए थे लेकिन इसके बाद उन्होंने फिट होने साथ अपने पुराने फॉर्म में ही वापसी की। फाइनल मैच को लेकर उनपर दबाव जरुर होगा लेकिन अपनी बल्लेबाजी से भी उन्होंने दर्शकों को चौंकाया है।

गेंदबाज (हरभजन सिंह, शार्दुल ठाकुर, लुंगी एनगिडी)

हरभजन सिंह को पहले क्वालीफायर में गेंदबाजी के लिए नहीं बुलाया गया जिसपर काफी सवाल भी खड़े हुए। वह एक दिग्गज खिलाड़ी है और उन्हें इस बात का पूरा पता है कि ऐसे दबाव वाले मैच को किस तरह से संभालना है।

शार्दुल ठाकुर पिछले मैच में यॉर्कर डालने में असमर्थ रहे थे और ब्रेथवेट से उन्हें काफी मार पड़ी थी जिस वजह से धोनी उन्हें पहले इस्तेमाल करने के बारे में सोचेंगे।

लुंगी एन्गीडी एक शानदार गेंदबाज बनकर निकले है उन्होंने भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज से अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत करते हुए सभी को प्रभावित किया था चेन्नई ने उन्हें नीलामी के समय सिर्फ 50 लाख रुपयें में खरीदा थे लेकिन उन्होंने एक मैच विनर खिलाड़ी के रूप में प्रदर्शन किया है।