ट्रेंडिंग
आईपीएल के 12वें सीजन को लेकर बीसीसीआई पर लटकी तलवार, 9 महीन बाद फिर शुरू होगा धमाल
By Shubham - Jun 1, 2018 9:18 am
Views 3
Share Post

इंडियन प्रीमीयर लीग का 11वां सीजन अभी सकुशल संपन्न हुआ है. जिसके बाद दुनिया की सबसे बड़ी लीग  के 12वें सीजन पर संकट के काले बादल छाते नजर आ रहे है. ऐसी खबर आ रही है की अगले साल आईपीएल अप्रैल नहीं बल्कि मार्च में ही शुरू हो जाएगा. जिसके पीछे के 2 कारण बताये जा रहे है. पहला 2019 का देश में सबसे बड़ा लोकसभा चुनाव उसके बाद क्रिकेट जगत का सबसे बड़ा टूर्नामेंट आईसीसी 2019 विश्व कप.

2019 में विश्वकप के साथ है चुनाव भी

दरअसल खबर ये आ रही है की केंद्र सरकार 2019 चुनावों की तारीख आगे बढ़ा सकती है. जिसके चलते बीसीसीआई को आईपीएल के प्रोग्राम को जल्दी ही शिफ्ट करना होगा. बता दे की 30 मई से 2019 विश्वकप का शुभारम्भ है. ऐसे में लोढ़ा कमिटी की सिफ़ारिशो के अनुसार आईपीएल और किसी अंताराष्ट्रीय टूर्नामेंट के बीच कम से कम 15 दिनों का अंतर होना जरूरी है. इस  तरह बीसीसीआई आईपीएल-12 को लेकर दोधारी तलवार में फंस गयी है. चुनाव के चलते आईपीएल को इस बार बाहर भी नहीं ले जा सकते है.

टीओआई ने बीसीसीआई के एक अधिकारी के हवाले से लिखा, “नए कॉन्ट्रेक्ट और रेवेन्यू मॉडल के हिसाब से आईपीएल का हर सीजन बिलियन डॉलर का होता है. इस लीग से जुड़े लोगों का बहुत कुछ दांव पर लगा है. इसके अलावा स्टेकहोल्डर्स के बीच पूरी समानता है, वो लीग भारत में ही आयोजित करवाना चाहते हैं.”

आईपीएल बाहर कराना है अब टेढ़ी खीर 

दरअसल साल 2009 में लोकसभा चुनावों के चलते आईपीएल को भारत के बजाय दक्षिण अफ्रीका में आयोजित किया गया था. उस सीजन पहली और आखिरी बार आईपीएल का आयोजन भारत के बाहर किया गया था. 2014 में एक बार फिर आईपीएल और लोकसभा चुनावों की तारीखें टकरा गयी थी, हालांकि तब टूर्नामेंट के शुरुआती मैच यूएई में खेले गए थे लेकिन 19 दिन के बाद आईपीएल भारत लौट आया था.

बीसीसीआई को भरना पड़ा 121 करोड़ का जुर्माना 

गौरतलब है कि गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय ने 2009 के इंडियन प्रीमियर लीग सीजन के दौरान विदेशी मुद्रा के नियमों (फेमा) का उल्लंघन करने के लिए जुर्माना लगाया है.  बीसीसीआई पर 82.66 करोड़ का जुर्माना लगा, वहीं श्रीनिवासन को 11.53 करोड़ का जुर्माना चुकाना पड़ेगा. इसके साथ ही आईपीएल के पूर्व चेयरमैन ललित मोदी पर 10.65 करोड़, पूर्व कोषाध्यक्ष एमबी पंडोव पर 9.72 करोड़ और स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर पर 7 करोड़ का जुर्माना लगाया गया है. इस तरह आईपीएल को बाहर कराने पर कुल मिलाकर 121.66 करोड़ का जुर्माना देना पड़ेगा. जिसके चलते अगले साल आईपीएल को बाहर लेकर जाने के बारे में तो बीसीसीआई सोच ही नहीं रहा होगा. ऐसे में कयास लगाये जा रहे है की आईपीएल का 12वां सीजन 29 अर्च से शुरू हो सकता है.