आईपीएल 2018
IPL 2018: राहुल त्रिपाठी की उम्दा बल्लेबाजी के दमपर राजस्थान ने बैंगलोर को दिया 165 रनों का लक्ष्य
By Cricshots Team - May 19, 2018 12:18 pm
Views 2
Share Post
Umesh yadav, RCB
Umesh yadav, RCB

आईपीएल 11 में शनिवार को सवाई मानसिंह स्टेडियम में खेले जा रहे दिन के पहले मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को जीत के लिए 165 रनों का लक्ष्य दिया। प्लेऑफ में पहुंचने के नजरिए से महत्वपूर्ण इस मुकाबले में राजस्थान ने सलामी बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी की शानदार 58 गेंदों में 80 रन की अर्धशतकीय पारी और कप्तान अजिंक्य रहाणे की 33 रन और क्लासेन की 33 की उम्दा पारी की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में 164 रनों का स्कोर खड़ा किया।  गेंदबाजी में एक बार फिर उमेश यादव ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 3 विकेट झटके जबकि मोहम्मद सिराज को 1 विकेट हासिल हुए।

आर्चर-सैमसन हुए फेल

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान रॉयल्स की तरफ से राहुल त्रिपाठी और जोफ्रा आर्चर ने पारी की शुरुआत की। उनकी शुरुआत धीमी रही और दूसरे ही ओवर में महज 2 रन के स्कोर पर राजस्थान को पहला झटका लगा। जोफ्रा आर्चर उमेश यादव की गेंद पर विकेट के पीछे कैच हुए। वह खाता तक नहीं खोल पाए। इसके बाद राहुल त्रिपाठी ने रहाणे का साथ मिलकर राजस्थान की पारी को आगे बढ़ाया। त्रिपाठी ने 38 गेंदों में अपना अर्शतक पूरा किया। रहाणे और त्रिपाठी के बीच दूसरे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी हुई। रहाणे को उमेश यादव ने LBW आउट किया। रहाणे ने 31 गेंदों में 3 चौके की मदद से 33 रन बनाए। अगली ही गेंद पर संजू सैमसन भी बिना खाता खोले आउट हो गए। यादव की गेंद पर मोईन अली ने उनका कैच पकड़ा।

राहुल त्रिपाठी के बल्ले से बरसे रन

एक समय से शुरुआती झटके से जुझ रही राजस्थान रॉयल्स को शुरुआत से जिस बल्लेबाज का सहारा मिला वो थे, राहुल त्रिपाठी। राहुल पहले गेंद से लगातार अपनी टीम के लिए रन बना रहे थे। हालांकि उनको जोफ्रा आर्चर और सैमसन का साथ नहीं मिला लेकिन कप्तान रहाणे के साथ मिलकर जहां उन्होंने 99 रन की साझेदारी निभाई तो वहहीं इसके बाद हेनरिक क्लासेन के साथ भी एक छोर से मिलकर उन्होंने 48 रन की साझेदारी निभाई। इस दौरान क्लासेन के बल्ले से ज्यादातर रन निकले। क्लासेन ने 21 गेंदों में 32 रन की तेज मगर छोटी पारी खेली। उसके बाद आखिरी में कृष्णप्पा गौतम ने भी आकर 5 गेंदों में दो गेंदों पर छक्के लगाते हुए 14 रन बना डाले और आखिरी गेंद पर रनआउट हो गए। राहुल त्रिपाठी पहले गेंद से आकिरी गेंद पर क्रीज पर जमे रहे और 58 गेंदों में 5 चौके और 3 छक्के की मदद से 80 रन की पारी खेली और टीम के स्कोर को 164 तक पहुंचाने में अहम योगदान दिया।